sidharth joshi

आत्‍मगौरव

कुछ दिन पहले मैंने कहा था कि हमारे देश की सबसे बड़ी समस्‍या है

“आत्‍मसम्‍मान के बगैर आज्ञाकारी होना”

कॉर्पोरेट तो चलता ही इसी आधार पर है। रैगिंग भी इसी का भाग है। तकनीकी विवि में पहुंचते ही आपके आत्‍मसम्‍मान की बुरी तरह धज्जियां उड़ाई जाती हैं। ताकि मेधावी होने के बावजूद आप जिंदगी में कभी आत्‍मसम्‍मान की बात खुलकर न कर सकें। हमेशा दबे कुचले और अधिक सक्षम लोगों के अंगूठे के नीचे होने की “हकीकत” दिमाग में जमी रहे।

जो लोग भारतवंशियों से अधिक सहिष्‍णु होने का आग्रह कर रहे हैं, वे वास्‍तव में बेगैरत होने के लिए उकसा रहे हैं। भारत में असहिष्‍णुता नहीं आत्‍मसम्‍मान और आत्‍मगौरव में बढ़ोतरी हो रही है।

Advertisements