new thought · sidharth joshi

आखातीज के कुछ क्षण








आखातीज पर बीकानेर मे जमकर पतंगबाजी हुई। 

देखिए कुछ तस्‍वीरें। 
Advertisements

4 विचार “आखातीज के कुछ क्षण&rdquo पर;

  1. समीरजी मैं चाहता तो था कि सभी को आमंत्रित करूं लेकिन काम में पता नहीं चला कि आखातीज आ गई और जब आ ही गई तो हम भी पहुंच गए पुराने घर जहां इंटरनेट और कम्‍पयूटर जैसी चीजें नही हैं। सो किसी को आमंत्रित नहीं कर पाए। अगले साल आप जरूर आइएगा। आखातीज से पहले सूचना कर दूंगा।

    Like

टिप्पणियाँ बंद कर दी गयी है.